Sewabharati feeds Tribal Pilgrims at Simhast Kumbh Mela

सेवा का महाकुंभ: यहां रोज लाखों लोगों को मिलता है सुस्वादु भोजन
मजदूरों का पूरा ध्यान
इंदौर की सेवा भारती ने भी मैदान संभाल लिया है। सेवा भारती ने भूखी माता क्षेत्र में अपना प्रकल्प बनाया है, जहां स्वयं को सनातन धर्म से अलग मानने वाले वनवासियों और आदिवासियों को उज्जैन लाकर ठहराने, खिलाने-पिलाने और शिप्रा स्नान कराकर दोबारा घर तक छोड़ने की जिम्मेदारी संगठन ने ली है। रोटेशन में हर दिन 200 वनवासियों को लाया और घर छोड़ा जाएगा। सिंहस्थ में 6000 वनवासियों को शिप्रा स्नान कराने का संकल्प है। अखिल भारतीय वनवासी कल्याण परिषद ने भी सिंहस्थ से 21 जिलों के वनवासियों को जोड़ा है।
Source: http://dabangdunia.co/news/simhasth/story/36569.html

Comments

Popular posts from this blog

Educated in SevaBharati hostel; the first doctor of Attappadi Tribal Village

All NGOs should take the lead of Sewabharati and adopt a Govt School: SDM

Sevabharathi “Anantha Kripa” A Shelter Home for patients