Sewabharati to provide food and shelter at Simhast kumbh

Sewabharati to provide food and shelter at Simhast kumbh 2016 through Shabari Kutirs. Sewabharti's effort is to provide food and shelter to people comming of from Interior tribal villages of jhabua, Alirajpur, Nimad. The goal is to atleast provide facilities to 200 tribals and need at the Simhast Kumbh 2016.

सिंहस्थ में सेवा भारती की शबरी कुटिया में होगी सेवा
सिंहस्थ मेला क्षेत्र में सेवा भारती द्वारा स्थापित शबरी कुटिया परिसर में प्रतिदिन 200 वनवासी बंधु-भागिनियों के लिए आवास, भोजन, संत दर्शन, सत्संग की व्यवस्था की गई है।
इंदौर. सिंहस्थ 2016 को लेकर तैयारियां चारों और जोरों से चल रही है। इसी बीच सेवा भारती, इंदौर द्वारा सिंहस्थ पर सुदूर वन्य ग्रामों में रह रहे ग्रामीणों और वंचित तपके के लोगों को तीर्थ स्थलों के दर्शन, पुण्य स्नान आदि का लाभ दिलवाने की कवायाद की जा रही है। इसके माध्यम से उन्हें भारतीय संस्कृति से भी रूबरू करवाया जाएगा।
सिंहस्थ मेला क्षेत्र में सेवा भारती द्वारा स्थापित शबरी कुटिया परिसर में प्रतिदिन 200 वनवासी बंधु-भागिनियों के लिए आवास, भोजन, संत दर्शन, सत्संग की व्यवस्था की गई है। झाबुआ, आलिराजपुर, निमाड़ क्षेत्र के वनवासी क्षेत्रों से प्रतिदिन बंधु-भगिनि यहां आएंगे। शबरी कुटिया का भूमिपूजन 3 अप्रैल रविवार को शाम 4 बजे, दत्त अखाड़ा क्षेत्र, नया बडऩगर, रिंगरोड उज्जैन में किया जाएगा।
सेवा भारती द्वारा सिंहस्थ में शबरी कुटिया की स्थापना की जा रही है, इस विशेष कुटिया में सुदूर वन्य ग्रामों में रह रहे ग्रामीणों (वनवासियों) को सिंहस्थ मेले में पुण्य-लाभ दिलवाने का काम किया जाएगा। इसके तहत कार्यकर्ता प्रतिदिन 200 लोगों को सिंहस्थ मेला भ्रमण करवाएंगे। 22 अप्रैल से 21 मई तक 30 दिनों में 6000 वनवासियों को सिंहस्थ दर्शन करवाया जाएगा। सेवा भारती के कार्यकर्ता 24 घंटे सेवाएं देंगे। इसके साथ ही भूखी माता (दत्त अखाड़ा क्षेत्र) में सुविधा युक्त कमरे तैयार किए जा रहे है। यहां लोगों के लिए नि:शुल्क भोजन, पानी, भ्रमण की व्यवस्था की जाएगी। 22 घंटे तक श्रद्धालुओं की एक टोली मेला परिसर में रहेगी।

- See more at: http://www.patrika.com/news/indore/shabri-hut-open-by-seva-bharati-on-simhastha-1257576/#sthash.xHhNdcsi.dpuf

Comments

Popular posts from this blog

Educated in SevaBharati hostel; the first doctor of Attappadi Tribal Village

All NGOs should take the lead of Sewabharati and adopt a Govt School: SDM

Sevabharathi Kollam in relief work, Help desk for assistance.