Sewabharti 21 day Yoga camp concludes at Kamakhya dham

कामाख्या धाम में हुआ सेवा भारती का 21 दिवसीय योग शिक्षक प्रशिक्षण शिविर
गुवाहाटी, 22 नवम्बर (हि.स.)। सेवा भारती, पूर्वांचल के आरोग्य मित्र योजना के पूर्णकालीन कार्यकर्ताओं का 21 दिवसीय आवासीय योग शिक्षक प्रशिक्षण शिविर सोमवार को असम की राजधानी गुवाहाटी के कामाख्या धाम, यात्री निवास, नाहरबाड़ी में संपन्न हुआ। शिविर के समापन अवसर पर आयोजित कार्यक्रम में मुख्य वक्ता के रूप में राष्ट्रीय स्वंयसेवक संघ (आरएसएस) के क्षेत्र सेवा प्रमुख राजेश देशकर ने भाग लिया।समापन शिविर में उपस्थित प्रशिक्षार्थियों को संबोधित करते हुए देशकर ने कहा कि महर्षि पतंजली ने मानव जीवन को सुखी एवं शांति से परिपूर्ण बनाने के लिए योग आधारित जीवनशैली को महत्वपूर्ण एवं परिणामकारी सिद्ध करके दिखाया है।
अष्टांग योग के सूत्रों का पालन करते हुए मानव सतत् साधना एवं अभ्यास से जीवन के अनेक दुखों से मुक्त होकर सुख एवं शांति प्राप्त कर सकता है। विश्व की अनेक समस्याओं का समाधान योग आधारित जीवनशैली का पालन करके किया जा सकता है। ब्रह्माक्षर ओम का ध्यान एवं नाद करके व्यक्ति पूर्णता प्राप्त करने की दिशा में आगे बढ़ सकता है। ज्ञात हो कि यह शिविर गत 1 से 21 नवम्बर तक आयोजित किया गया था।

जिसमें आरोग्य मित्र योजना के चयनित 30 प्रमुख पूर्णकालीन कार्यकर्ताओं को सेवा भारती, पूर्वांचल के योग विभाग द्वारा योग शिक्षक का प्रशिक्षण दिया गया। कार्यक्रम की अध्यक्षता कामाख्या धाम के कनिष्ठ दलै यदुनाथ शर्मा ने करते हुए कहा कि आध्यात्मिक साधना की ऊंचाई को सतत् योगाभ्यास के द्वारा भी प्राप्त किया जा सकता है। शर्मा ने उपस्थित शिक्षार्थियों के सुखी एवं संपन्न जीवन के लिए मां कामाख्या की आराधना करते हुए आशीर्वाद प्रदान किया। कार्यक्रम का शुभारंभ भारत माता के चित्र के समक्ष दीप प्रज्ज्वलन से हुआ।

कार्यक्रम का संचालन रंजीत बरगोहाईं तथा प्रतिवेदन पाठ मृदुला लहकर ने किया। धन्यवाद ज्ञापन करते हुए प्रमुख योग शिक्षक द्विजेंद्र नाथ दास ने शिविर में सहयोग के लिए कामाख्या धाम देवालय समिति का आभार प्रकट किया। शिक्षार्थियों द्वारा फुलाम गामोछा व भेंट प्रदान कर सभी शिक्षकों का सम्मान किया गया। सेवा भारती, पूर्वांचल के सचिव प्रो.

कामिनी मोहन सिन्हा ने स्वस्थ ग्राम, स्वस्थ समाज एवं स्वस्थ राष्ट्र के लिए योग को जन-जन तक पहुंचाने का कार्यकर्ताओं से आह्वान किया। योग शिक्षक प्रशिक्षण वर्ग की समाप्ति पर सभी शिक्षार्थियों को सेवा भारती के क्षेत्र संगठन मंत्री नरेश कुमार विकल, प्रांत संगठन मंत्री विपुल डेका तथा हिमाद्री पुरकायस्थ ने प्रमाण-पत्रों का वितरण किया। सर्व व्यवस्था प्रमुख निखिल हजारिका ने वर्ग की व्यवस्था में सामग्री तथा आर्थिक सहयोग करने वाले सभी दानदाताओं का आभार व्यक्त किया। कल्याण मंत्र से कार्यक्रम का समापन हुआ।हिंदुस्थान समाचार/ अरविंद/निमिष

Source: http://m.dailyhunt.in/news/india/hindi/hindusthan+samachar+hindi-epaper-hshind/kamakhya+dham+me+huaa+seva+bharati+ka+21+divasiy+yog+shikshak+prashikshan+shivir-newsid-60554204

Comments

Popular posts from this blog

Educated in SevaBharati hostel; the first doctor of Attappadi Tribal Village

All NGOs should take the lead of Sewabharati and adopt a Govt School: SDM

Sevabharathi “Anantha Kripa” A Shelter Home for patients