Akhil Bhartiya Sewa Pramukh says service to the needy is the inspiration of Sewabharti projects

राष्ट्रीयस्वयंसेवक संघ के अखिल भारतीय सेवा प्रमुख सुहास राव बुधवार को एक दिवसीय प्रवास पर जालोर पहुंचे। यहां पत्रकारों से वार्ता के दौरान उन्होंने कहा कि देश में जरुरतमंदों की सेवा ही सेवा प्रकल्प का प्रमुख उद्देश्य है। उन्होंने कहा कि देश में नगरीय, ग्रामीण आदिवासी/वनवासी क्षेत्र में प्रकल्प की ओर से काम किए जा रहे हैं। इसके तहत शिक्षा, स्वास्थ्य, सामाजिक सरोकार स्वावलंबन चार क्षेत्रों में पूरे देश में जनसहयोग से 1.55लाख कार्यक्रम चलाए जा रहे हैं। इसमें जरुरतमंदों को रोजगारोन्मुखी प्रशिक्षण देना, पिछड़े क्षेत्रों में स्वास्थ्य सेवाएं उपलब्ध करवाना, शिक्षा के लिए बालवाड़ी अन्य शिक्षा केंद्र खोलना शामिल है। 

रोजगारोन्मुखी प्रशिक्षण के तहत बेरोजगारों को स्वावलंबी बनाने पर विशेष ध्यान दिया जाता है। सेवा प्रमुख राव ने बताया कि सेवा भारती ट्रस्ट अन्य संगठनों के तत्वावधान में जिले में भी 7 संस्कार सेवा केंद्र पूरे राज्य में करीब 1200 प्रोजेक्ट संचालित किए जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि समाज यहां के लोग अपने ही है और अपनों के लिए कुछ करने की प्रेरणा से ही सेवा कार्य किया जा रहा है। इस दौरान प्रांतीय कार्यवाहक श्याम मनोहर, राज्य क्षेत्रीय सेवा प्रमुख शिवलहरी, सहप्रांत प्रचारक योगेंद्र जालोर-सिरोही सेवा प्रमुख अजय कुमार गुप्ता भी उपस्थित थे। 

Comments

Popular posts from this blog

Educated in SevaBharati hostel; the first doctor of Attappadi Tribal Village

All NGOs should take the lead of Sewabharati and adopt a Govt School: SDM

Sevabharathi “Anantha Kripa” A Shelter Home for patients