Posts

Showing posts from August 11, 2016

Thanks to Matrichaya Sewabharti 5 Orphan boys will rewrite their destiny

Image
5 अनाथ बच्चे अब मातृ छाया सेवाभारती विदेशो में अपना भविष्य बनायेंगेअंजुल मिश्रा, जबलपुर।  कहते  है किस्मत पलटते देर नही लगती  | जी हाँ  यह सच भी साबित हुआ | अचानक किस्मत पलटी और उनके सपनो को पंख लग गये| जबलपुर के मात्री छाया सेवाभारती के पांच बच्चो की परवरिश विदेशो में होगी |  अब न केवल विदेशों में उनका इलाज होगा बल्कि बेहतर भविष्य भी बन सकेगा। यह पहला मौका है जब जबलपुर के मातृ छाया सेवाभारती आश्रम के 5 बच्चों की परवरिश विदेशों में होगी। तीन  बच्चे अमेरिका में गोद जाएंगे वहीं 1-1 बच्चा फ्रांस और इटली में। सेंट्रल एडाप्शन रिसोर्स एजेंसी (कारा) ने इसकी प्रक्रिया शुरू कर दी है। इस साल के अंत तक पांचों मासूम बच्चों को विदेशी माता-पिता मिल जाएंगे। अब तक यह संस्था करीब 2 सौ अनाथ बच्चों को गोद दे चुकी है लेकिन वे सभी देश के भीतर ही हैं।कैसे हुआ संभवपहले अनाथ बच्चों को विदेश में गोद देने का नियम नहीं था। सुप्रीम कोर्ट के निर्देश पर सेंट्रल एडाप्शन रिसोर्स एजेंसी (कारा) ने अगस्त 2015 में नए नियम तैयार किए जिसके आधार पर अब विदेशी भी देश के बच्चों को गोद ले सकते हैं।यह है प्रक्रिया-अनाथ बच्चा मि…