Sevabharathi Asom Seva Sankalp Tribal hostel celebrates annual day

सेवा भारती की सहयोगी संस्था सेवा भारती कामाख्या नगर चेरिटेबल एवं धार्मिक ट्रस्ट के गुवाहाटी मालिगाँव के निकट आदिंगिरि पहाड़ में बहुमुखी सेवा प्रकल्प “सेवा संकल्प” के ‘जनजाति छात्रावास’ का वार्षिकोत्सव धूम-धाम के साथ संपन्न हुआ।

वार्षिकोत्सव में छात्रवास के बच्चों द्वारा सामूहिक देशभक्ति गीत, गीतापाठ, व्यायाम योग, योगासन तथा पिरामिड़ का प्रदर्शन किया गया। मुख्य अतिथि असम के महामहिम राज्यपाल माननीय बनवारी लाल पुरोहित ने अपने संबोधन में कहा कि असम की राजधानी के मध्य आदिंगिरि पहाड़ में स्थित यह प्रकल्प एवं जनजाति छात्रावास प्राचीन गुरूकुल परंपरा के समान है।माननीय राज्यपाल महोदय ने पूर्वोत्तर के दूरस्थ वंचित एवं अभावग्रस्त जनजाति ग्रामों में विकास तथा शिक्षा की दयनीय स्थिति पर चिंता व्यक्त करते हुए कहा कि जनजाति बालक-बालिकाओं को संस्कारयुक्त शिक्षा का अवसर प्रदान करना पुण्य का कार्य है। शिक्षा के व्यवसायीकरण के कारण शिक्षा संस्कार एवं मूल्यों से दूर होती जा रही है। जिसका दुष्परिणाम देश समाज एवं हमारी भावी पीढ़ी को भुगतना पड़ रहा है। सनातन हिंदु संस्कृति के प्राचीन धर्म ग्रंथ ज्ञान- विज्ञान एवं संस्कारयक्त जीवन पद्धति के भंड़ार है। विद्या दान महादान है ।किसी भी अच्छे कार्य के लिए निःस्वार्थ एवं समर्पण भाव से दान करना चाहिए। उन्होनें एक दोहे से दानदाता की मनःस्थिति का वर्णन किया-‘बड़ा बड़ाई न करे, बड़े न बोले बोल। हीरा मुख से कब कहे, अमूल्य है मेरा मोल।। माननीय राज्यपाल महोदय ने सभी छात्रों को पूर्व राष्ट्रपति माननीय ए.पी.जे.अब्दुल कलाम आजाद तथा पूर्व प्रधानमंत्री माननीय लाल बहादुर शास्त्री के अभावग्रस्त एवं संघर्षपूर्ण जीवन से प्रेरणा लेकर आगे बढ़ने का संदेश दिया ।

विशिष्ट अतिथि राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के क्षेत्र प्रचारक श्री उल्हास कुलकर्णी ने आदिंगिरि पहाड़ पर स्थित “सेवा संकल्प” बहुमुखी विकास प्रकल्प की भूमि खरीद से लेकर वर्तमान तक अनेक अभावों से संघर्ष में विकास यात्रा के लिए प्रकल्प के लिए समर्पित कार्यकर्ताओं, दानदाताओं एवं सहयोगी सभी बंधु-भगिनी का हृदय से आभार व्यक्त करते हुए भविष्य में भी तन-मन-धन से सहयोग करने की अपील की।छात्रावास के मेधावी छात्रों को माननीय राज्यपाल महोदय ने पुरुस्कार प्रदान किया।

http://sevabharatipurbanchal.org/project/annual-function-at-janjati-chhatravas/

Comments

Popular posts from this blog

Educated in SevaBharati hostel; the first doctor of Attappadi Tribal Village

All NGOs should take the lead of Sewabharati and adopt a Govt School: SDM

Sevabharathi “Anantha Kripa” A Shelter Home for patients