Sewabharati Asom in association with Keshav Smarak Samskriti samiti Silchar organised Organic Farming workshop

लोहारबंद,जिला काछार,असम, 
26 फरवरी- “जैविक कृषि एवं गौविज्ञान कार्यशाला संपन्न”
सेवा भारती की सहयोगी संस्था केशव स्मारक संस्कृति सुरभि,सिलचर,असम के तत्वावधान में लोहारबंद,जिला काछार में जैवक कृषि एवं गौविज्ञान विषय पर कृषकों की एक कार्यशाला का आयोजन किया गया। कार्यशाला में मुख्य अतिथि रा.स्व.संघ के वरिष्ठ प्रचारक माननीय शंकरलाल जी,अ.भा.गौविज्ञान प्रमुख ने कहा कि सूखी घासपत्ती,सब्जी का कचरा तथा गोबर से उच्च कोटि की जैविक खाद का निर्माण काफी सरल तरीके से किया जा सकता है।गाय का दूध अमृत के समान है। गौमूत्र के अर्क से विभिन्न प्रकार की बीमारियों का ईलाज किया जा सकता है। जैविक खाद का उपयोग करने से कृषि योग्य भूमि को अधिक उपजाऊ बनाया जा सकता है। क्षेत्र सेवा प्रमुख श्री राजेश देशकर जी ने सभी कृषकों से जैविक खाद का उपयोग तथा गौवंश के संरक्षण संवर्द्धन के लिए विशेष आग्रह किया।

Source: http://sevabharatipurbanchal.org/project/training-on-organic-agriculture/

Comments

Popular posts from this blog

Educated in SevaBharati hostel; the first doctor of Attappadi Tribal Village

All NGOs should take the lead of Sewabharati and adopt a Govt School: SDM

Sevabharathi “Anantha Kripa” A Shelter Home for patients